Filed Under:  RAJASTHAN NEWS

नए कलक्टर पहुंचे निरीक्षण करने, 100 से अधिक कर्मचारी मिले नदारद, कहा इतने नोटिस कैसे करूं जारी |

27th December 2018   ·   0 Comments

जिला कलेक्ट्रेट में अधिकारी और कर्मचारी जनता के कार्यों के प्रति कितने गंभीर हैं, इसकी पोल गुरूवार को खुल गई। नवनियुक्त जिला कलक्टर जगरूप सिंह यादव ने गुरूवार को कलक्ट्रेट परिसर का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने प्रत्येक शाखा का दौरा किया, जहां पर आधे अधिकारियों सहित 138 कर्मचारी अनुस्थित पाए गए। इस दौरान कलक्टर सभी शाखाओं के रजिस्टरों को उठा लाए। हैरानी वाली बात यह थी कि निरीक्षण के दौरान कई एडीएम अनुस्थित मिले। भारी ताताद में अधिकारी—कर्मचारियों के अनुपस्थित रहने के बाद कलक्टर खुद असमंजस में पड गए और कहने लगे कि इतने नोटिस कैसे देंगे। आखिरकार सभी की लिस्ट तैयार कर चेतावनी नोटिस जारी किए गए।उल्लेखनीय है कि कलक्टर ने बुधवार को ही पदभार ग्रहण किया था। इस दौरान कलक्ट्रेट में चल रही भारी अव्यवस्थाओं की लाइव रिपोर्ट राजस्थान पत्रिका में गुरूवार को कलक्टर 9 बजे पहुंचे, कर्मी 11 बजे तक नदारद शीर्षक से प्रकाशित की गई। जिस पर कार्रवाई करते हुए जिला कलक्टर जगरूप सिंह यादव सुबह साढे नौ बजे कलक्ट्रेट पहुंचे। इसके बाद बिना किसी को सूचना किए परिसर का निरीक्षक करने निकल गए। इस दौरान कलक्टर ने 25 से अधिक शाखाओं में जाकर कर्मचारियों को जाकर देखा। यहां सभी शाखाओं में 138 कर्मचारी—अधिकारी अनुस्थित मिले। इस दौरान कलक्टर सभी शाखाओं के रजिस्टर उठाकर ले आए।इधर कलक्टर के औचक निरीक्षण की खबर जैसे ही कलेक्ट्रेट में लगी, अफरा—तफरी मच गई। जो कर्मचारी दफ्तर आकर लौट गए, वे अपने कमरों को भागने लगे। कई कर्मचारी कार्यालय नहीं पहुंचे उनके लिए फोन पहु्ंच गए। कलेक्ट्रेट परिसर में गहमा—गहमी का माहौल हो गया। बता दें कि कलेक्ट्रेट में 300 से अधिक कर्मचारी है, जिसमें आधे कर्मचारी अनुस्थित मिले थे।

कई खामियां मिली

निरीक्षक के दौरान वाकई कई खामियां मिली हैं। अधिकारियों के साथ कर्मचारी भी अनुस्थित थे। व्यवस्था में सुधार किया जाएगा, अब हाजिरी की नई प्रणाली लागू की गई है।

जगरूप सिंह यादव, कलक्टर जयपुर

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles