Filed Under:  RAJASTHAN NEWS

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने जारी ​की प्रत्याशियों की सूची, 11 उम्मीदवारों के नाम का किया ऐलान |

17th November 2018   ·   0 Comments

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने शुक्रवार देर रात को उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। पहली सूची में पार्टी ने 11 प्रत्याशियों के नाम का ऐलान किया है।जयपुर। विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने दो किस्तों में प्रदेश की 162 सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं, जबकि कांग्रेस ने गुरुवार देर रात 152 प्रत्याशियों के टिकट घोषित कर अपनी तस्वीर साफ कर दी। इसके बाद राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने शुक्रवार देर रात को उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। पहली सूची में पार्टी ने 11 प्रत्याशियों के नाम का ऐलान किया है।बता दें पार्टी संयोजक व खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने बुधवार को खींवसर से तीसरी बार नामांकन दाखिल किया था। उससे पहले नागौर के पशु प्रदर्शनी स्थल पर आयोजित नामांकन रैली में बेनीवाल ने कहा था कि उसी दिन शाम तक सूची जारी कर दी जाएंगी, हालांकि कांग्रेस की सूची जारी नहीं होने के कारण सूची रोक ली।इसके बाद शुक्रवार को दिनभर पार्टी के संयोजक हनुमान बेनीवाल के घर कई नेता पहुंचे। बेनीवाल पिछले दो दिन से जयपुर स्थित आवास पर प्रत्याशियों की सूची को लेकर पार्टी पदाधिकारियों के साथ चर्चा कर फाइनल करने में जुटे रहे। आखिरकार प्रत्याशियों के नाम मंथन कर देर रात नामों का ऐलान कर दिया गया।

यह है पूरी लिस्ट

1. खींवसर— हनुमान बेनीवाल

2. कोटपूतली— रामस्वरूप कसाना

3. सिवाना— सताराम देवासी

4. बायतू— उम्मेदाराम

5. शिव— उदाराम मेघवाल

6. चौहटन— सुरताराम मेघवाल

7. पीलीबंगा— नेहा मेघवाल

8.करौली— कुलदीप पाल सिंह जादौन

9. चौंमू— छुटन यादव

10. नवलगढ़ — प्रतिभा सिंह

11. तिजारा— लक्ष्मी मेघवाल

इस सूची में शामिल कसाना कोटपुतली से 2008 में विधायक चुने जा चुके हैं। उस दौरान वह अशोक गहलोत की सरकार में संसदीय सचिव भी रहे थे। पिछले चुनाव में वह निर्दलीय चुनाव लड़े थे और साढ़े 17 हजार वोट लेकर तीसरे स्थान पर रहे थे।

वहीं प्रतिभा सिंह भी नवलगढ़ से विधायक रह चुकी है। वह पिछला चुनाव कांग्रेस के टिकट पर लड़ी थी और उन्हें 42 हजार से अधिक वोट मिले थे।

इसके अलावा करौली से उम्मीदवार बनाए गए जादौन वहां के पूर्व राजपरिवार के हैं।

पीलीबंगा से नेहा मेघवाल ने पिछला चुनाव जमींदारा पार्टी से लड़ा था और करीब 22 हजार से अधिक वोट हासिल किए थे। ऐसे में पहली सूची में यह चार नाम चुनावों में उलटफेर करने वाले साबित हो सकते हैं।

 

 

 

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles