Filed Under:  RAJASTHAN NEWS

दुष्कर्म प्रकरण / बाबूलाल नागर को झटका, जमानती वारंट से तलब

16th November 2018   ·   0 Comments

जयपुर। राजस्थान हाईकोर्ट ने पूर्व मंत्री बाबूलाल नागर को दुष्कर्म प्रकरण में जमानती वारंट जारी कर तलब किया है। इसके साथ ही अदालत ने मामले में सीबीआई और पीड़िता की ओर से पेश अपील को सुनवाई के लिए स्वीकार कर लिया है। न्यायाधीश पंकज भंडारी की एकलपीठ ने यह आदेश गुरुवार को मामले में सुनवाई करते हुए दिए।

 

सीबीआई और पीड़िता की ओर से अदालत को बताया कि जिले के अतिरिक्त सत्र न्यायालय क्रम-2 ने पूर्व मंत्री बाबूलाल नागर को गत वर्ष तीस जनवरी को दुष्कर्म प्रकरण से बरी कर दिया। जबकि नागर के खिलाफ अभियोजन पक्ष के पास पर्याप्त साक्ष्य मौजूद थे। इसके साथ ही चिकित्सीय साक्ष्य के अलावा पीड़ित महिला के बयान से भी साबित है कि नागर ने दुष्कर्म किया है।

 

इसके बावजूद भी निचली अदालत ने उसे संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया। ऐसे में निचली अदालत के आदेश को रद्द किया जाए। बहस के बाद एकलपीठ ने अपील को सुनवाई के लिए स्वीकार करते हुए नागर को जमानती वारंट से तलब किया है। गौरतलब है की पीड़िता ने नागर पर सरकारी बंगले पर बुलाकर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया था।

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles