Filed Under:  National

चीफ मिनिस्टर के खिलाफ मैदान में उतरा कांग्रेस का दिग्गज नेता, मुश्किल में बीजेपी |

9th November 2018   ·   0 Comments

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस बार अकेले बुदनी से नामांकन दाखिल किया है। शुक्रवार को नामांकन भरने की आखिरी तारीख है और कांग्रेस ने बड़ा धमाका करते हुए किसान पुत्र को मैदान में उतारा है। ये थोड़ी देर में नामांकन भरने के लिए बुदनी पहुंच रहा है।मध्यप्रदेश में टिकट बंटवारे को लेकर चले घमासान के बाद अब नामांकन के आखिरी दिन कांग्रेस ने पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रहे अरुण यादव को चुनाव मैदान में उतारा है। वे शुक्रवार को बुदनी से नामांकन भरने वाले हैं। यादव की इमेज किसान पुत्र की है और वे यादव वोटों को अपनी ओर खींचने में सक्षम माने जाते हैं।

यादव ने किया जीत का दावा

नामांकन भरने से पहले मीडिया के साथ चर्चा में कांग्रेस नेता अरुण यादव ने कहा कि बुदनी सीट पहले भी कांग्रेस की सीट रही है। इस सीट को जीतना कोई चुनौती नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस फिर जीतेगी और सरकार बनाएगी।

बीजेपी की बढ़ेगी मुश्किल

इस बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अकेले बुदनी से चुनाव लड़ रहे हैं। इसलिए उनके लिए इस सीट पर ज्यादा फोकस करने जरूरी हो गया है। क्योंकि पिछले चुनाव में वे बुदनी और विदिशा दो सीटों से चुनाव लड़े थे। दोनों ही सीटें उन्होंने जीत ली थी। इसके बाद विदिशा सीट छोड़ दी थी।

इन्होंने भी जताई थी इच्छा

इससे पहले कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता केके मिश्रा भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ बुदनी से चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर कर चुके हैं। उन्होंने रेत का अवैध खनन, व्यापमं घोटाले को लेकर शिवराज सिंह के खिलाफ मैदान में उतरने के लिए कांग्रेस पार्टी से मांग की थी

अर्जुन आर्य ने भी दी थी चुनौती

इससे पहले समाजवादी पार्टी का टिकट मिलने के बावजूद कांग्रेस ज्वाइन करने वाले अर्जुन आर्य ने भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। उन्होंने कहा था कि वे शिवराज सरकार को खत्म करने के लिए सक्षम हैं। आर्य पिछले दिनों उस समय चर्चा में आए थे जब किसान आंदोलन के दौरान उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। काफी समय जेल में रहने के बाद हालांकि उन्हें जमानत मिल गई। आर्य दिल्ली विश्वविद्यालय से पढ़ाई खत्म कर राजनीति में उतरे हैं। फिलहाल वे कांग्रेस में इसलिए गए थे कि शायद उन्हें बुदनी से मुख्यमंत्री के खिलाफ मैदान में उतारा जाए। हालांकि अब कांग्रेस पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव को उतार रही है।bjp

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles