Filed Under:  National

#MeToo मामले में कोर्ट पहुंचे एमजे अकबर, पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ किया मानहानि का मुकदमा

15th October 2018   ·   0 Comments

केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ मानहानी का केस किया है। उन्होंने यह मुकदमा अपने वकीलों करंजवाला एंड कंपनी के माध्यम से किया है।बता दें देशभर में चल रहे मीटू अभियान के तहत कई महिलाओं ने एमजे अकबर पर यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। उन्हीं में से एक हैं प्रिया रमानी। सोमवार को अकबर साउथ ब्लॉक स्थित विदेश मंत्रालय पहुंचे थे। इससे पहले रविवार को उन्होंने खुद पर लगे सभी आरोपों को गलत बताया था। उन्होंने यह भी कहा था कि वह कानूनी कार्रवाई करेंगे।

अकबर कई अखबार और पत्रिकाओं में संपादक रह चुके हैं। साल 2017 में भी एक महिला पत्रकार  ने बताया था कि उसके बॉस ने उसे होटल के कमरे में जॉब इंटरव्यू के लिए बुलाया था। प्रिया रमानी नाम की एक महिला ने ट्वीट कर बताया कि एमजे अकबर ने होटल रूम में इंटरव्यू के दौरान कई महिला पत्रकारों के साथ आपत्तिजनक हरकतें की हैं।

हार्वे विन्सिटन ऑफ द वर्ल्ड नाम से लिखे पोस्ट में कहा गया है कि अकबर ने होटल के एक कमरे में उनका इंटरव्यू लिया था। साथ ही उन्होंने शराब भी ऑफर की। अकबर ने महिला पत्रकार को बिस्तर पर उनके पास बैठने को भी कहा था। महिला का कहना है कि वह अश्लील फोन कॉल्स, मैसेज और असहज टिप्पणी करने में माहिर हैं। महिला ने लिखा है कि कई युवा महिलाएं उनकी गलत हरकतों की भुक्तभोगी हैं। लेख के प्रकाशन के समय आरोपी का नाम नहीं दिया गया था। अब बताया गया कि वे एमजे अकबर हैं।

प्रिया रमानी नाम की महिला ने ट्वीट में इस आरोप को प्रमाणित करते हुए कहा है कि वह भी उनकी गलत हरकत की शिकार हुईं। उसके साथ मुंबई के एक होटल में आपत्तिजनक हरकत की गई। वहीं शुमा राहा नाम की महिला ने ट्वीट में कहा, उसके साथ 1995 में ताज बंगाल होटल, कोलकाता में एमजे अकबर ने गलत हरकती की। उनकी गलत हरकत के विरोध में उसने नौकरी करने से इंकार कर दिया। इस ट्वीट के बाद कई अन्य महिला पत्रकारों ने भी आरोप का समर्थन किया।

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles