Filed Under:  RAJASTHAN NEWS

अजमेर में पीएम मोदी बोले- पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है वोट बैंक की राजनीति

6th October 2018   ·   0 Comments

वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।वोट बैंक की राजनीति करने वालों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।यहां कहा कि ऐसी राजनीति केवल चुनावों तक सीमित नहीं रहती बल्कि पूरी व्यवस्था को तबाह कर देती है। मोदी ने कहा कि वोट बैंक की राजनीति करने वाले हिंदू, मुस्लिम, अगड़े- पिछड़े, शहर-गांव जैसे मुद्दों को लेकर समाज को बांटते हैं और नौकरशाही में भी उसी आधार पर भेदभाव करते हैं जिससे शासन पूरी तरह प्रभावित हो जाता है। हम लोग वोट बैंक की राजनीति में नहीं, ‘सबका साथ सबका विकास’ में विश्वास रखते हैं।
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश और दुनिया के लिये भले ही वे प्रधानमंत्री हों लेकिन भाजपा के लिये अब भी एक आम कार्यकर्ता हैं और कार्यकर्ता के नाते पार्टी उन्हें जो भी काम सौंपेगी उसे जी जान लगाकर करेंगे।कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि जो लोग साठ साल तक सत्ता में विफल रहे वे विरोधी दल के रूप में भी विफल साबित हुए। उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि बड़ी मुश्किल से साठ साल बाद देश ने एक दिशा पकड़ी है, अब उन्हें (समाज को बांटने वालों को) यहां झांकने का मौका भी मत दीजिये।

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles