Filed Under:  RAJASTHAN NEWS

Rajasthan election-2018: 4.74 करोड़ मतदाता, 5 साल में बढ़े 67.53 लाख वोटर्स

6th October 2018   ·   0 Comments

नई दिल्ली. चुनाव आयोग ने शनिवार को पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया। छत्तीसगढ़ में 12 नवंबर और 20 नवंबर को वोट डाले जाएंगे। मध्यप्रदेश और मिजोरम में 28 नवंबर को वोटिंग होगी। वहीं, राजस्थान और तेलंगाना में 7 दिसंबर को मतदान होगा। सभी राज्यों के नतीजों का ऐलान 11 दिसंबर को किया जाएगा। अभी मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा की सरकार है। मिजोरम में कांग्रेस की सरकार है। तेलंगाना में टीआरएस सत्ता में थी। वहां विधानसभा भंग हो चुकी है।

 

मध्यप्रदेश और मिजोरम
नोटिफिकेशन : 2 नवंबर
नॉमिनेशन की आखिरी तारीख : 9 नवंबर
नॉमिनेशन की स्क्रूटनी : 12 नवंबर
नॉमिनेशन वापसी की आखिरी तारीख : 14 नवंबर
वोटिंग : 28 नवंबर

 

राजस्थान और तेलंगाना
नोटिफिकेशन :
 12 नवंबर
नॉमिनेशन की आखिरी तारीख : 19 नवंबर
नॉमिनेशन की स्क्रूटनी : 20 नवंबर
नॉमिनेशन वापसी की आखिरी तारीख : 22 नवंबर
वोटिंग : 7 दिसंबर

 

छत्तीसगढ़ का पहला चरण (इसमें नक्सल प्रभावित इलाकों में मतदान होगा)
नोटिफिकेशन : 16 अक्टूबर
नॉमिनेशन की आखिरी तारीख : 23 अक्टूबर
नॉमिनेशन की स्क्रूटनी : 24 अक्टूबर
नॉमिनेशन वापसी की आखिरी तारीख : 26 अक्टूबर
वोटिंग : 12 नवंबर

कुल सीटें : 18

 

छत्तीसगढ़ का दूसरा चरण
कुल सीटें :
 72
नोटिफिकेशन : 26 अक्टूबर
नॉमिनेशन की आखिरी तारीख : 2 नवंबर
नॉमिनेशन की स्क्रूटनी : 3 नवंबर
नॉमिनेशन वापसी की आखिरी तारीख : 5 नवंबर
वोटिंग : 20 नवंबर

 

किस राज्य में कब खत्म हो रहा विधानसभा का कार्यकाल
छत्तीसगढ़ :
 5 जनवरी 2019
मध्यप्रदेश : 7 जनवरी 2019
राजस्थान : 20 जनवरी 2019
मिजोरम : 15 दिसंबर 2018

 

हलफनामे के नियमों में बदलाव :  मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने कहा कि चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों के हलफनामे के नियमों में भी सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के मुताबिक बदलाव किया गया है। उम्मीदवारों को उन विज्ञापनों के बारे में बताना होगा जो उन्होंने अपने खिलाफ दर्ज आपराधिक मुकदमों के संदर्भ में मीडिया में प्रकाशित कराए हैं।

 

कांग्रेस का आरोप :  कांग्रेस ने अजमेर में शनिवार को हुई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली की वजह से चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस का वक्त बदलने का आरोप लगाया। हालांकि, आयोग ने इसे खारिज कर दिया। पहले खबरें थीं कि आयोग दोपहर 12:30 बजे कॉन्फ्रेंस करेगा। बाद में वक्त बदलकर इसे तीन बजे किया गया।
पांचों राज्यों में 83 लोकसभा सीटें; भाजपा के पास 60, कांग्रेस के पास 9
मध्यप्रदेश 
: कुल 29 लोकसभा सीटें। इनमें से भाजपा के पास 26 और कांग्रेस के पास 3 सीटें।
छत्तीसगढ़ : कुल 11 सीटें। भाजपा के पास 10, कांग्रेस के पास 1 सीट।
राजस्थान : कुल 25 सीटें। भाजपा के पास 23, कांग्रेस के पास 2 सीटें।
मिजोरम : एक लोकसभा सीट जो कांग्रेस पास।

तेलंगाना : कुल 17 लोकसभा सीटें। टीआरएस के पास 11, भाजपा के पास 1, कांग्रेस के पास 2, तेदेपा के पास 1 और 2 अन्य के पास।

 

सत्ता के दावेदार
मध्यप्रदेश : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, कमलनाथ, ज्योतिरादित्य सिंधिया
छत्तीसगढ़ : मुख्यमंत्री रमन सिंह, अजीत जोगी, भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव
राजस्थान : मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया, अशोक गेहलोत, सचिन पायलट

 

हर जगह प्रचार के 3 ही चेहरे : नरेंद्र मोदी, अमित शाह और राहुल गांधी

 

2014 में तेलंगाना की स्थिति

दल  विधानसभा सीटें  लोकसभा

सीटें 

टीआरएस 63 11
कांग्रेस 21 02
तेदेपा 15 01
भाजपा 05 01
अन्य 15 02
कुल  119 17

 

2013 में मिजोरम विधानसभा की स्थिति

दल  सीटें 
कांग्रेस 34
एमएनएफ 05
अन्य 01
कुल  40 

कोटा। मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने शनिवार को वीडियों कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आदर्श आचार संहिता की पालना एवं चुनाव तैयारियों के संबंध में जिले के अधिकारियों के साथ वार्ता कर दिशा-निर्देश प्रदान किए।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि निष्पक्ष, पारदर्शी एवं त्रुटि रहित चुनाव कराना हम सभी की जिम्मेदारी है। इसमें अधिकारी मनायोग के साथ टीम भावना के रूप में कार्य करें। उन्होंने कहा कि राज्य में चुनाव आचार संहिता लागू हो चुकी है। सेक्टर अधिकारियों को क्षेत्र में सक्रिय कर प्रत्येक गतिविधि पर गहनता से निगरानी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कोई भी पात्र मतदाता मतदान करने से वंचित नहीं रहे यह भी सुनिश्चित किया जाए। सभी जिलों में सरकारी विज्ञापन, होर्डिंग्स को हटवाने की कार्रवाई शुरू कर आचार संहिता की पालना सुनिश्चित की जाए। उन्होंने मतदान केन्द्रों पर की जाने वाली आवश्यक व्यवस्थाओं एवं 7 अक्टूबर को आयोजित शिविर में बीएलओं को मतदाता सूची के नाम जोड़ने के संबंध में आवेदन लेने के लिए सक्रिय करने के निर्देश दिए।

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी रेखा शर्मा ने कार्मिकों का डेटा पोर्टल पर फीड करने, मतदान केन्द्रों की तैयारी, उड़नदस्ता दल को सक्रिय करने के संबंध में आवश्यक निर्देश प्रदान किए। अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी जोगा राम ने कानून व्यवस्था की दृष्टि से संवेदनशील क्षेत्रों में मतदाताओं से संपर्क करने, जिले के मुद्रक एवं प्रकाशकों की बैठक आयोजित कर आयोग के निर्देशों की जानकारी देने एवं मीडिया सेल को सक्रिय करने के निर्देश दिए।

कोटा से पुलिस महानिरीक्षक आंनद श्रीवास्तव, जिला निर्वाचन अधिकारी गौरव गोयल, पुलिस अधीक्षक शहर दीपक भार्गव, पुलिस अधीक्षक ग्रामीण डॉ. राजीव पचार ने जिले में चुनाव तैयारियों के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी वासुदेव मालावत, एएसपी गोपाल सिंह कानावत सहित चुनाव से संबंधित गठित प्रकोष्ठों के अधिकारी उपस्थित रहे।

 

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles