Filed Under:  RAJASTHAN NEWS

जयपुर में लव जिहाद: दोस्ती, झांसा, दुष्कर्म और युवती का धर्म परिवर्तन करवाया

8th September 2018   ·   0 Comments

जयपुर।

राजस्थान की राजधानी जयपुर में लव जिहाद का मामला सामने आया है। यहां पर मालवीय नगर थाना इलाके में एक 25 वर्षीय युवती के साथ एक मुस्लिम युवक द्वारा अपना धर्म छुपा कर पहले दोस्ती करने और फिर धर्म परिवर्तन करवाकर शादी का झांसा दे, उसके साथ दुष्कर्म करने का 16 अगस्त 2018 को मुकदमा दर्ज करवाया गया है। युवती ने 18 फरवरी 2018 को ही एक बच्चे को भी जन्म दिया था।

युवती ने महानगर मजिस्ट्रेट के माध्यम से इस्तगासे के माध्यम से बताया है कि जब उसको युवक के धर्म की जानकारी मिली, तो उसके साथ संबंध बनाने और शादी करने से इंकार कर दिया। इस पर आरोपी युवक ने आपत्तिजनक फोटो और अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर जबरन धर्म परिवर्तन करा लिया। पीड़िता ने बताया है कि जबरन शादी कर ली। लम्बे समय तक उसको बन्दी बनाकर रखा गया। इस दौरान गर्भवती हो गई। उसने फरवरी की 18 तारीख को एक बच्चे को जन्म दिया था। आरोपी के खिलाफ इस्तगासे के माध्यम से मालवीय नगर थाने में मामला दर्ज करवाया है।

सामूहिक दुष्कर्म किया गया

दर्ज FIR के मुताबिक मॉडल टाउन निवासी 25 वर्षीय एक युवती ने इस संबंध में आईपीसी की धारा 323, 341, 420, 384, 354, 376-D, 377, 295, 120-B के तहत मामला दर्ज करवाया है। युवती का आरोप है कि 2 वर्ष पहले उसकी मुलाकात इशांत नाम के युवक से हुई थी। दोनों के बीच दोस्ती के दौरान ईशांत ने शादी का झांसा देकर उसके साथ कई बार शारीरिक संबंध बनाए। करीब 1 वर्ष बाद पीड़ित युवती को पता चला कि इशांत तो इशांत नहीं, बल्कि जयपुर के ही विश्वकर्मा का रहने वाला इरशाद अली है।

इसके बाद पीड़ित युवती ने युवक से दूरी बनानी शुरू कर दी, लेकिन इरशाद ने उसके फोटो और अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर उसका पहले धर्म परिवर्तन करवाया। युवती का कहना है कि फिर उससे निकाह कर लिया। पीड़िता की ओर से दर्ज FIR में कहा गया है कि आरोपी ने इसके बाद पीड़िता का न केवल धर्म बदल गया, बल्कि उसके साथ घर पर तरह-तरह की ज्यात्तियां की गई। उसने बताया कि परिवार के 3-4 जनों ने भी दुष्कर्म, अप्राकृतिक सेक्स और मारपीट की गई। उसके साथ न केव दुष्कर्म किया गया, बल्कि सामूहिक दुष्कर्म किया गया और अप्राकृतिक यौन शोषण भी किया गया।

जब यह सबकुछ उसके बस से बाहर हो गया तो वह बड़ी मुश्किल से भाग निकली। वहां से पीड़ित अपने नाना के घर गई। शारिरिक व मानसिक रूप से उबरने के बाद कोर्ट के माध्यम से इस्तगासा करवाया। पुलिस इस मामले में मालवीय नगर थाना पुलिस जांच कर रही है।

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles