Filed Under:  RAJASTHAN NEWS

विश्वविद्यालय भी लोकायुक्त जांच के दायरे में आएगा, राजस्थान पहला राज्य

11th August 2018   ·   0 Comments

विश्वविद्यालय भी लोकायुक्त जांच के दायरे में आएगा, राजस्थान पहला राज्य

जयपुर. स्वायत्त संस्थान के रूप में संचालित सरकारी विश्वविद्यालय भी अब लोकायुक्त के दायरे में आ गए हैं। राजभवन के जरिये इस संबंध में नोटिफिकेशन जारी किया गया है। देश में राजस्थान पहला ऐसा राज्य बन गया है, जहां विश्वविद्यालय लोकायुक्त जांच के दायरे में रहेंगे।

स बीच, राज्यपाल कल्याण सिंह ने मोहनलाल सुखाड़िया यूनिवर्सिटी के बायोटेक्नोलोजी विभाग में पिछले दिनों हुई प्रोफेसर राजेश कुमार दुबे की नियुक्ति की जांच लोकायुक्त को सौंप भी दी है। दुबे की नियुक्ति को लेकर शिकायतें मिली थीं। इनमें कहा गया था कि दुबे का एपीआई स्कोर यूजीसी के मापदंडों से कम है। वे पहले जयनारायण व्यास विवि, जोधपुर के एचआरडीसी में निदेशक थे। वहां से अनापत्ति प्रमाण-पत्र तथा रिलीव हुए बिना सुखाड़िया विवि में कार्यग्रहण करा दिया गया। इस बारे में कुलपति से स्पष्टीकरण लिया गया। लेकिन राज्यपाल ने मामले को बेहद गंभीर मानते हुए जांच लोकायुक्त से करवाने का निर्णय लिया

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles