Filed Under:  CRIME NEWS

अनैतिक संबंध का वीडियो वायरल करने की ब्लेकमेलिंग से तंग आकर युवक ने की अपने रिश्तेदार की नृशंस हत्या

15th June 2018   ·   0 Comments

जयपुर.एक युवक ने अपने रिश्तेदार युवक के साथ मिलकर परिचित युवती से शारीरिक संबंध बनाए। दगाबाज निकले रिश्तेदार ने धोखे से अपने साथी रिश्तेदार का मोबाइल से अनैतिक संबंध बनाने का वीडियो बना लिया। इसके बाद ब्लेकमेलिंग करने लगा।

– वीडियो वायरल करने की धमकी देकर रुपयों की मांग शुरु कर दी। आखिरकार ब्लेकमेलिंग से तंग आकर युवक ने अपने रिश्तेदार की नृशंस हत्या कर दी। वारदात का पता चलने पर पड़ताल में जुटी कमिश्नरेट के पूर्व जिले में बस्सी थाना पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। तब पूछताछ में चौंकाने वाला यह खुलासा हुआ।

यह है आरोपी और हत्या का पूरा मामला:

-डीसीपी पूर्व कुंवर राष्ट्रदीप ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी कालूराम मीणा (21) है। वह बस्सी क्षेत्र के गांव गुढ़ा मीणा का रहने वाला है। जबकि हत्या का शिकार हुआ राजेंद्र कुमार मीणा निवासी गांव ऊगावास, बस्सी क्षेत्र का था। आपस में रिश्तेदार होने से आरोपी कालूराम मृतक राजेंद्र को मौसा कहकर पुकारता था।
– बताया जा रहा है कि करीब डेढ़ माह पहले आरोपी कालूराम ने अपने रिश्तेदार राजेंद्र मीणा के साथ मिलकर उसकी परिचित युवती के साथ अनैतिक शारीरिक संबंध बनाए थे। तब राजेंद्र ने मौका पाकर कालूराम का युवती के साथ आपत्तिजनक हालत में मोबाइल से वीडियो बना लिया।

– इसके बाद राजेंद्र ने कालूराम को वीडियाे वायरल कर बदनाम करने की धमकी देकर ब्लेकमेल करना शुरु कर दिया। कालूराम के मुताबिक मृतक राजेंद्र कुमार उससे आए दिन शराब पीने के लिए रुपए मांगने लगा। इससे तंग आकर कालूराम ने राजेंद्र की हत्या की योजना बनाई।

ब्लेकमेलिंग से तंग आकर यूं रची हत्या की साजिश:

– एसीपी बस्सी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ ने बताया कि पूछताछ में सामने आया कि कालूराम ने 9 जून को शराब पार्टी के बहाने अपने रिश्तेदार राजेंद्र कुमार को नई नाथ, गणेश मोड़ के समीप बुलाया। तब राजेंद्र कुमार पहले से शराब पिये हुए था।

– कालूराम ने इसका फायदा उठाकर राजेंद्र को अपनी बाइक पर बैठाया। फिर उसे खानियां, नई नाथ की पहाड़ी पर ले गया। वहां दोनों ने साथ बैठकर शराब पी। साजिश के अनुसार कालूराम ने राजेंद्र को ज्यादा शराब पिलाई। वह नशे में बेसुध हो गया।

– तब कालूराम ने कपड़े (गमझे) से राजेंद्र का गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद वह खाई में गिराने के लिए राजेंद्र को घसीटकर ले गया। इसके बाद शराब की बोतल और भारी पत्थर से राजेंद्र के चेहरे पर वार किए। फिर राजेंद्र के दम तोड़ने पर कालूराम मौके से भाग निकला।

– अगले दिन 10 जून को शव मिलने की सूचना पर पुलिस उच्चाधिकारी मौके पर पहुंचे। हत्या का मुकदमा दर्ज कर बस्सी एसीपी पुष्पेंद्र सिंह राठौड़ के निर्देशन में पड़ताल शुरु हुई।

– तब हत्या से पहले कालूराम व राजेंद्र के साथ देखे जाने की अहम जानकारी मिली। इसके बाद पुलिस ने कालूराम पर नजर रखीं। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु की। तब उसने हत्या की बात कबूल कर ली।

 

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles