Filed Under:  LATEST NEWS

हैकर्स इन पांच तरीकों से कर सकते हैं आपकी मोबाइल बैंकिंग हैक

2nd December 2015   ·   0 Comments

mobile-banking-hack5-1448951236मोबाइल बैंकिग को बहुत ही आसानी से किया जा सकता है हैक

स्मार्टफोन्स आने के बाद लोगों में मोबाइल बैंकिंग को लेकर रूझान दिनों-दिन बढ़ता जा रहा है। ऑनलाइन शॉपिंग हो, बिल पे करना हो या फिर टिकिट बुकिंग जैसे काम मोबाइल बैंकिंग के जरिए बड़ी आसानी से हो रहे हें। आज हर तीसरे ट्रांजैक्शन में मोबाइल या इंटरनेट का उपयोग हो रहा है। लेकिन साथ ही इसके नुकसान भी बढ़ते जा रहे हैं। मोबाइल बैंकिंग के दौरान थोड़ी-सी लापरवाही बड़े नुकसान का कारण बन सकती है। जिनके चलते कोई भी आपकी मोबाइल बैंकिंग हैक कर चुटकियों में सारे पैसे उड़ा ले जा सकता है। इसीलिए हम आपको बता रहे हैं मोबाइल बैंकिंग के दौरान होने पांच ऐसी गलतियां जिनसे अगर आप बचकर रहें तो आपका अकाउंट सेफ रहेगा।

  1. मोबाइल फोन में ब्राउजिंग हिस्ट्री क्लियर नहीं करना

 

यदि आप मोबाइल बैकिंग का उपयोग तो लगातार करते हैं लेकिन उसकी हिस्ट्री को डिलीट करना भूल जाते हैं। यह सुरक्षा लिए खतरनाक होती है, क्योंकि इसके जरिए कर कोई भी दूसरा व्यक्ति आपकी इंफोर्मेशन निकाल सकता है।

इसलिए जब भी आप मोबाइल बैंकिंग का का उपयोग करें तो उसकी समय अपने हैंडसेट से ब्राउजिंग हिस्ट्री डिलीट कर दें। ऐसा करने पर आपको फोन गुम हो जाए है या हैक हो जाए तो भी कोई नुकसान नहीं होगा।

  1. मोबाइल फोन में ऑटोलॉक लगाना

 

मोबाइल ऑटोलॉक नहीं लगाने से हैकर्स आपके अकाउंट को बड़ी आसानी से हैक कर सकते हैं। ऐसा कई यूजर्स करते हैं जो गलत है।

इसलिए सेफ मोबाइल बैंकिंग के लिए जरूरी है कि आप अपने स्मार्टफोन में ऑटोलॉक जरूर लगाएं। ऑटोलॉक के लिए कैरेक्टर, न्यूमैरिक और स्पेशल कैरेक्टर्स का 8 डिजीट या उससे ज्यादा के कैरेक्टर का मजबूत पासवर्ड चुनें।

  1. मोबाइल बैंकिग में पब्लिक वाईफाई और ब्लूटूथ का यूज करना

 

मोाबइल बैंकिंग के लिए पब्लिक वाई-फाई का उपयोग करना बहुत ही खतरनाक है। फ्री में इंटरनेट चलाने के लालच में यूजर्स अक्सर पब्लिक वाई-फाई का उपयोग कर लेते हैं। इसके लिए यदि आप मोबाइल बैंकिंग का उपयोग कर रहे हैं तो गलती से भी पब्लिक पब्लिक वाई-फाई अथवा ब्लूटूथ का यूज न करें। ऐसा करने पर वायरस सीधे ही आपके मोबाइल पर अटैक कर सकते हैं। इससे बचने के लिए आप अपने मोबाइल फोन में एंटी वायरस फायरवॉल और सेफ्टी सॉफ्टवेयर टाइम-टाइम पर अपडेट करते रहें तो अच्छा है।

  1. मोबाइल फोन में ब्राउजिंग संभलकर करें

 

मोबाइल फोन बैंकिंग करने वालों के लिए किसी भी साइट पर क्लिक करना व कहीं से भी कुछ भी डाउनलोड कर लेना उनके हैंडसेट में वायरस अटैक का कारण बन सकता है। इसलिए जब भी मोबाइल से ब्राउजिंग करें तो ध्यान रखें कि जिस वेबसाइट को आप ओपन कर रहे हैं वो विश्वसनीय है या नहीं। इसके लिए आपको ऐप्स, गेम्स, गाने और वीडियो डाउनलोड करते समय विशेष ध्यान रखना होगा। क्योंकि डाउनलोडिंग के साथ-साथ वायरस भी आ सकता है।

  1. मोबाइल बैंकिंग करते समय पर्सनल इंफोर्मेशन शेयर नहीं करें

 

मोबाइल बैंकिंग का काम में लेते समय पर्सनल इंफोर्मेशन शेयर करना ही हैकर्स को निमंत्रण देना है। पर्सनल इंफोर्मेशन शेयर होने के बाद हैकर्स बड़ी आसानी से आपका अकाउंट हैक कर सकते हैं। इसलिए अपने बैंक का अकाउंट नंबर, पासवर्ड, डेट ऑफ बर्थ, डेबिट, क्रेडिट कार्ड और पैन कार्ड की जरूरी सूचना किसी से भी शेयर न करें।

 

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles