Filed Under:  Main Menu

जयपुर लोकसभा सीट: भाजपा-कांग्रेस में दावेदारों की भरमार, प्रत्याशी चयन बना टेढ़ी खीर |

11th March 2019   ·   0 Comments

भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां प्रदेश की सभी 25 सीटों पर प्रत्याशी चयन को लेकर मंथन में जुटी हैं
जयपुर। भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां प्रदेश की सभी 25 सीटों पर प्रत्याशी चयन को लेकर मंथन में जुटी हैं, लेकिन दोनों ही पार्टियों के लिए जयपुर शहर और ग्रामीण सीट के लिए प्रत्याशी चयन टेढ़ी खीर साबित हो रहा है। प्रत्याशी चयन को लेकर दोनों पार्टियां सभी पहलुओं का बारीकी से मंथन कर रही है।
जहां तक कांग्रेस की बात की जाए तो इस बार पार्टी नए चेहरे पर दांव खेलेगी। 2014 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी महेश जोशी ने इस बार विधानसभा चुनावों में हवामहल विधानसभा क्षेत्र से जीत दर्ज की है। उन्हें सरकार में मुख्य सचेतक भी बनाया गया है। ऐसे में पार्टी उन्हें चुनाव लड़ाने के मुड में नहीं है। इस वहज से पार्टी नए चेहरे की तलाश कर रही है। शहर कांग्रेस उपाध्यक्ष डॉ. अर्चना शर्मा, राजीव अरोड़ा, सुनील शर्मा और पूर्व महापौर ज्योति खंडेलवाल दावेदारी जता रहे हैं। माना जा रहा इन्हीं चारों नामों में से किसी एक को टिकट दिया जा सकता है।
जयपुर ग्रामीण से जाट या यादव को लड़ाएगी कांग्रेस!
जयपुर ग्रामीण सीट पर कांग्रेस जाट या यादव पर दांव खेल सकती है। पार्टी प्रवक्ता सुरेश चौधरी, राष्ट्रीय प्रवक्ता संदीप चौधरी, शाहपुरा से प्रत्याशी रहे मनीष यादव और पूर्व सांसद हरीसिंह के नाम प्रबल दावेदारों में शामिल है। राष्ट्रीय महासचिव जितेंद्र सिंह इस सीट से यादव को टिकट दिलाने के पक्ष में ताकि वे अलवर में यादव वोटों को अपने पक्ष में कर सकें। यही वजह है जयपुर में नियुक्त एक ब्यूरोक्रेट भी टिकट की जोड़तोड़ में लगे है। वहीं कृषिमंत्री लालचंद कटारिया को भी प्रत्याशी बनाने पर पार्टी विचार कर रही है।
भाजपा से बोहरा या दीया कुमारी
भाजपा भी जयपुर शहर से प्रत्याशी चयन को लेकर मंथन में जुटी है। अभी तक सांसद रामचरण बोहरा और पूर्व विधायक दीया कुमारी प्रबल दावेदार हैं। बोहरा स्वच्छ छवि और 2014 के चुनाव में 5.39 लाख वोटों की बड़ी जीत की वहज से प्रबल दावेदार के रूप मे उबरी हैं। दीया की दादी गायत्री देवी स्वतंत्र पार्टी से तीन बार जयपुर शहर से सांसद रह चुकी है। इन दोनों के अलावा विधायक अशोक लाहोटी, महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा, प्रवक्ता सुनील कोठारी, अजय धांघिया भी दावेदारों में फेहरिस्त में शामिल हैं।
मीण से राज्यवर्धन सिंह के सामने कोई नाम नहीं
जयपुर ग्रामीण सीट की बात की जाए तो यहां से वर्तमान सांसद और केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह सबसे प्रबल दावेदार है। उनके सामने अभी तक भाजपा का कोई अन्य मजबूत चेहरा सामने नहीं आया है।

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles