Filed Under:  RAJASTHAN NEWS

गुर्जर आरक्षण आंदोलनकारियों के खिलाफ तीन मामले दर्ज, वायरल वीडियो पुराने

11th February 2019   ·   0 Comments

जयपुर। प्रदेश में गुर्जर आरक्षण आंदोलन में फैलाई जा रही भ्रामकता पर विराम लगाते हुए महानिदेशक पुलिस कानून व्यवस्था एमएल लाठर ने बताया कि प्रदेश में गुर्जर आंदोलनकारियों के खिलाफ तीन प्रकरण दर्ज हुए हैं और दो मुकदमें और दर्ज किए जा रहे हैं। आंदोलन को लेकर वायरल किए जा रहे वीडियो पुराने हैं और जनता को डरने की आवश्यकता नहीं है।
डीजीपी लॉ एण्ड ऑर्डर लाठर ने बताया कि गुर्जर आरक्षण आंदोलन का करौली के पास गुड़ला, बूंदी के नैनवां मेगा हाइवे पर और मलारना डूंगर के रेलवे ट्रैक पर असर रहा है। धौलपुर में रविवार को चंबल पुल के पास रास्ता रोकते समय आंदोलनकारियों ने हिंसक रूप दिया गया। पुलिस पर पथराव शुरू किया तो उनको तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े गए हैं।
पुलिस की तरफ से फायरिंग की सूचना महज अफवाह है और इस संबंध में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। मलारना डूंगर, करौली के गुड़ला और झुंझुंनूं के उदयपुरवाटी में रास्ता रोकने संबंधी प्रकरण दर्ज हो चुके हैं और धौलपुर में दो प्रकरण दर्ज किए जाने की तैयारी है। आंदोलनकारी वर्ष 2007 और 2008 के पुराने वीडियो वायरल कर जनता में भय पैदा करने का प्रयास कर रहे हैं। पब्लिक को डरने की आवश्यकता नहीं है, कानून को हाथ में लेने वालों के खिलाफ सख्ती से निपटा जाएगा। पुलिस के पास इससे निपटने के लिए पर्याप्त जाब्ता है, जिसमें आरएसी की कंपनियां तैनात की गई है। 

By

Readers Comments (0)


Comments are closed.

Latest Articles